पीरियड्स में देरी के घरेलू उपाय – home remedies for irregular periods

0
388
home remedies for irregular periods

मासिक धर्म में देरी ?

home remedies for irregular periodsपीरियड्स यानी मासिक धर्म हर लड़की और महिला के शरीर की एक प्राकृतिक क्रिया है और यह उनके जीवन का एक हिस्सा है। हालांकि, कभी-कभी महिलाओं को मासिक धर्म में देरी की समस्या से भी गुज़रना पड़ता है। सही समय पर पीरियड्स न होना, महिला के लिए पीड़ादायक हो जाता है। पीरियड्स में देरी होने पर डर लगा रहता है कि कहीं पार्टी, पूजा या त्यौहार के समय न आ जाएं।

घरेलू उपाय किस लिये ?

हालांकि, आजकल महिलाएं दवाइयों का सेवन कर अपने पीरियड्स को जल्दी या देरी से लाने की कोशिश करती हैं, लेकिन इन दवाइयों के कुछ साइड इफेक्ट्स भी होते हैं, जिनका असर स्वास्थ्य पर पड़ता है। इसलिए, अगर महिलाएं चाहती हैं कि उनका मासिक धर्म सही समय पर हो, तो बेहतर है कि दवाइयों की जगह सही समय पर पीरियड्स लाने के नुस्खे (home remedies for irregular periods) आजमाएं। आज, इस लेख में हम मासिक धर्म जल्दी लाने के उपाय या फिर कहें कि समय पर लाने के उपाय आपको बता रहे हैं।

पीरियड्स के कुछ लक्षण

भूख न लगना या बहुत ज़्यादा भूख लगना –

कुछ महिलाओं को पीरियड्स के पहले या पीरियड्स के दौरान बहुत ज़्यादा भूख लगती है या बाहर की चीज़ें व मीठा खाने की तीव्र इच्छा होती है। वहीं, कुछ महिलाओं की खाने की इच्छा बिल्कुल ख़त्म हो जाती है।

मूड स्विंग्स होना

पीरियड्स के पहले महिलाओं के व्यवहार में भी काफी परिवर्तन होता है। कई महिलाएं काफ़ी चिड़चिड़ी हो जाती हैं या बहुत ज़्यादा भावुक हो जाती हैं।

पेट में ऐंठन होना

कई महिलाओं को पीरियड्स के दौरान पेट और कमर में ऐंठन की समस्या होती है। यह काफ़ी पीड़ादायक होता है और आजकल लगभग हर महिला इस समस्या से गुज़रती है।

सिरदर्द होना

कुछ महिलाओं को पीरियड्स के कुछ दिन पहले से ही सिरदर्द की भी शिकायत होने लगती है। कभी-कभी सिरदर्द इतना तेज़ होता है कि उन्हें दर्द निवाकर दवा लेनी पड़ती है।

शरीर का अतिसंवेदनशील हो जाना

पीरियड्स के पहले हॉर्मोन बदलने के कारण शरीर काफ़ी संवेदनशील हो जाता है। कुछ महिलाओं को स्तनों में दर्द की शिकायत होती है।

मासिक धर्म में देरी के कारण – Common Causes for Late Periods in Hindi

  • हार्मोन में बदलाव
  • तनाव
  • बीमारी जैसे – थायराइड, पीसीओएस (पॉलिस्टिक ओवरी सिंड्रोम)
  • सही पोषक तत्व न लेना
  • दवाइयों के साइड इफ़ेक्ट

पीरियड्स (मासिक धर्म) लाने के घरेलू उपाय – Home Remedies for Periods Problem in Hindi

home remedies for irregular periods

सौंफ

  • एक चम्मच सौंफ
  • चार कप पानी

क्या करें?

  • एक बर्तन में पानी और सौंफ डालकर उसे पांच से दस मिनट तक उबालें।
  • फिर इसे छानकर पानी को ठंडा कर लें।
  • इस मिश्रण को दिन भर में थोड़ी-थोड़ी देर बाद पिएं।

कैसे फायदा करता है?

भोजन के बाद सौंफ खाने के फायदे के बारे में सभी जानते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि पीरियड्स समय पर लाने में सौंफ काफ़ी मददगार होता है। यह मासिक धर्म को जल्दी लाने में मदद करता है(home remedies for irregular periods)। यह गर्भाशय में संकुचन पैदा कर मासिक धर्म को सही समय पर होने के लिए प्रेरित करता है। इसके अलावा यह मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द को भी कम कर सकता है।

दालचीनी – Dalchini one of home remedies for irregular periods

सामग्री :

  • दालचीनी पाउडर
  • दूध

क्या करें?

  • आप आधा या एक चम्मच दालचीनी पाउडर दूध में मिलाकर पिएं।
  • इसके अलावा, पीरियड्स आने के पहले दालचीनी की चाय का भी रोज़ सेवन कर सकते हैं।

कैसे फायदा करता है?

दालचीनी शरीर के तापमान को बढ़ाती है और इससे पीरियड्स समय या फिर जल्दी होने की संभावना होती है। दालचीनी न सिर्फ़ आपके मासिक चक्र को ठीक करती है, बल्कि जिन्हें पीसीओएस की शिकायत है, उनके इलाज में भी मददगार साबित हो सकती है । यहां तक कि दालचीनी मासिक धर्म में होने वाले ज़्यादा रक्तस्त्राव को भी कंट्रोल(home remedies for irregular periods) करने में मदद कर सकती है ।
(और पढ़ेंःHow to Remove Pimples During Summer in Hindi ( Best pimple cure ) )

अदरक

सामग्री :

  • आधा चम्मच अदरक का रस
  • शहद

क्या करें ?

  • पहले अदरक के टुकड़े का रस निकाल लें।
  • अब इसमें शहद मिला लें।
  • इस मिश्रण को आप अपने मासिक धर्म होने की डेट से एक हफ़्ते पहले खाना शुरू करें।

कैसे फायदा करता है?

अदरक आपके शरीर में गर्मी बढ़ाता है, जिस कारण आपके पीरियड्स समय पर या जल्दी आते हैं। इसमें एन्टीस्पैस्मोडिक (antispasmodic) गुण होता है । एन्टीस्पैस्मोडिक, मासिक धर्म के चक्र को सही करने में मदद करता है।

पपीता

सामग्री

  • एक कटोरी पका हुआ पपीता या पपीते का जूस

क्या करें ?

  • अपने मासिक धर्म की डेट के एक या दो हफ़्ते पहले पपीता खाएं या फिर उसका जूस पिएं।

कैसे फायदा करता है?

पपीता आपके गर्भाशय की मांसपेशियों में संकुचन पैदा करता है। यह मुख्य रूप से उसमें मौजूद कैरोटीन के कारण होता है, जो एस्ट्रोजन हार्मोन को उत्तेजित कर मासिक धर्म को समय पर लाने का कारण बनता है ।

अजवायन के पत्ते

सामग्री :

  • 6 ग्राम सूखे अजवायन के पत्ते
  • उबला हुआ पीने का पानी

कैसे सेवन करें ?

  • सूखे अजवायन के पत्ते उबलते गर्म पानी में डाल दें और इस पानी को छानकर दिनभर में तीन बार लें।
  • आप अपने मासिक धर्म की तारीख के दस से पंद्रह दिन पहले इसका सेवन शुरू कर दें।

कैसे फ़ायदा करता है ?

अजवायन एस्ट्रोजन की तरह काम करता है । इस कारण मासिक धर्म समय पर आते हैं।

अनानास

  • एक कटोरी कटा हुआ अनानास या एक गिलास अनानास का जूस।
  • अपने पीरियड्स आने के कुछ दिन पहले से रोज़ दोपहर में अनानस खाएं या जूस पिएं।

कैसे फायदा करता है ?

अनानास आपके शरीर में गर्मी पैदा करता है और इसमें यूटेरोटॉनिक (uterotonic) गुण होते हैं जिससे गर्भाशय में संकुचन पैदा होता है । इससे आपके पीरियड्स कभी देरी से नहीं होंगे।

कॉफ़ी – Drink Coffee to treat irregular periods

सामग्री :

  • सिर्फ एक कप कॉफ़ी

क्या करें :

  • मासिक धर्म की डेट के दो हफ़्ते पहले से आप नियमित रूप से कॉफ़ी पीना शुरू कर दें।

कैसे फ़ायदा करता है?

अगर आपको भी मासिक धर्म में देरी होने की परेशानी है, तो सही समय पर पीरियड्स लाने का यह बहुत ही आसान उपाय है। कॉफ़ी में कैफ़ीन होता है और इसमें एस्ट्रोजन उत्तेजक गुण होते हैं । जैसा कि हमने पहले भी बताया कि एस्ट्रोजन आपके मासिक धर्म चक्र को नियमित करने में मदद करता है, इसलिए कॉफ़ी के सेवन से आपके पीरियड्स समय पर आएंगे।
(और पढ़ेंःRemedies to control cholesterol in Hindi-कोलेस्‍ट्रॉल को कंट्रोल के घरेलू उपाय )

सावधानी : पीरियड्स शुरू हो जाने के बाद कॉफ़ी का सेवन कम कर दें, क्योंकि इसका ज़्यादा सेवन स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है।

मालिश – प्रभावी घरेलू उपाय

सामग्री :

  • आधा चम्मच अरंडी का तेल
  • हीटिंग पैड

क्या करें ?

  • अरंडी के तेल से अपने पेट के निचले हिस्से की मालिश करें।
  • फिर गर्म पानी की बोतल (heating pad) से उस हिस्से पर 10-15 मिनट तक सिकाई करें।
  • अपने पीरियड्स के लगभग एक हफ्ते पहले से ऐसा रोज़ दो बार करें।

कैसे फायदा करता है ?

अरंडी के तेल में रायसेनोलिक एसिड (ricinoleic acid) होता है, जो गर्भाशय में संकुचन पैदा करता है। इससे आपके पीरियड्स कभी देरी से नहीं आएंगे।

अनियमित मासिक धर्म में तिल के बीज से उपचार – Sesame Seeds a effective way to treat menstruation cycle

सामग्री :

  • एक चम्मच तिल के बीज
  • थोड़ा- सा शहद

कैसे सेवन करें ?

  • मासिक धर्म आने के दस से पंद्रह दिन पहले एक चम्मच तिल के बीज को थोड़े से शहद के साथ रोज़ दो बार खाएं।

कैसे फायदा करता है?

तिल के बीज एस्ट्रोजन की तरह काम करते हैं, जिससे आपके मासिक चक्र समय पर आ सकते हैं, क्योंकि एस्ट्रोजन बेहद महत्वपूर्ण हार्मोन होता है, जिससे पीरियड्स प्रभावित होते हैं।

विटामिन-सी

विटामिन-सी की दवाई या विटामिन-सी युक्त खाद्य पदार्थ जैसे – खीरा, गाजर, संतरा, नींबू अपने खाने में शामिल करें।

कैसे फायदा करता है ? How its is useful as a home remedies for irregular periods

विटामिन-सी आपके शरीर में एस्ट्रोजन हॉर्मोन को बढ़ता है । एस्ट्रोजन एक हार्मोन है, जो आपके मासिक धर्म चक्र को विनियमित करने में सहायक है(home remedies for irregular periods)। विटामिन-सी प्रोजेस्ट्रोन के स्तर को भी कम कर देता है, जो बदले में गर्भाशय की दीवारों के शुरुआती शेडिंग की संभावनाओं को बढ़ाता है, जिससे मासिक धर्म शुरू हो जाता है।

सावधानी

अगर आप विटामिन-सी की दवाइयां लेना चाहती हैं, तो एक बार अपने डॉक्टर से सलाह ज़रूर लें। अगर आपको किसी चीज़ से एलर्जी है, तो इसके बारे में डॉक्टर को ज़रूर बताएं।

गर्म पानी – Hot water a home remedies for irregular periods

आप पीरियड्स से एक हफ़्ते पहले अपने निचले पेट पर गर्म पानी का सेंक लें। ऐसा रोज़ एक से दो बार करें।

आप चाहे तो हर रोज़ गर्म पानी भी पी सकते हैं।

गर्म पानी पीने या सेंक लेने से आपके सही समय पर पीरियड्स आ सकते हैं। आप पीरियड्स के दौरान भी गर्म पानी पी सकते हैं या पेट के निचले हिस्से पर सेंक कर सकते हैं। इससे आपको पीरियड्स के दर्द से काफ़ी हद तक आराम मिलेगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here