Symptoms of Dengue-डेंगू के लक्षण और 6आसान घरेलू इलाज

11
902
Symptoms of Dengue

 

डेंगू के बारे में (About Dengue)

मौसम बदलते ही तरह-तरह के संक्रमण फैलने लगते हैं, जिनमें डेंगू बेहद खतरनाक बीमारी है। डेंगू बुखार 

  एंडीज मच्छर के काटने से होता हैं, और ये साफ सूथरे पानी में पनपते और अंडे देते हैं | डेंगू का बुखार होने से 

   शरीर में खून की कमी ,प्लेटलेट में कमी ,तेज बुखार आना और मांसपेसियों में दर्द होना ये सब डेंगू के प्रमुख

    सिम्पटम्स हैं |( Symptoms of Dengue)

( इसे भी पढ़ें – केला खाने के फायदे )

Symptoms of Dengue
Symptoms of Dengue

Symptoms of Dengue-डेंगू के लक्षण

. डेंगू के सिम्टम्स तुरंत नहीं दिखाई देते हैं इनको दिखने में 10 से 15 दिन लगते हैं लेकिन

अगर शुरुआत में ही डेंगू का पता चल जाये तो इसे बढ़ने से ही रोक सकते हैं |

. तेज बुखार , सिर दर्द, कमर दर्द ,आँखों में दर्द और ठंडा लगना ये सब डेंगू के शुरुआती सिम्टम्स हैं |

. डेंगू बुखार का वायरल जब खून में फैलने लगता है तो जोड़ो में तेज दर्द और मरीज को को बुखार आने लगता हैं |

(और पढ़ेंःHow to Remove Pimples During Summer in Hindi ( Best pimple cure ) )

. ब्लड प्रेसर में अचानक से कमी आना और दिल की गति का कम होना भी डेंगू का सिम्टम्टो में से एक सिम्टम हैं |

. सरे बदन पे लाल चकते पड़ना, चक्कर आना ,शरीर में बहोत कुमजोरी महसूस होना ,

मांसपेसियों में दर्द होना , लूज मोशन होना ,भूख ना लगना और पेट में दर्द होना Symptoms of Dengue हैं |

. जो हमने अभी तक आपको डेंगू के सिम्टम्स बताये है ये उसका पहला चरड़ है

. लोग अक्सर घरेलु नुक्से और कुछ हलकी दवाईया खा लेते है जिनसे भुखार थोड़ा कम हो जाता हैं

लेकिन फिर से भुखार हो जाता है जोकि डेंगू का दूसरा चरड़ हो सकता हैं |

. डेंगू के दूसरे चरड़ में बुखार पहले से भी तेज होता हैं,शरीर पे लाल चक्क्ते आने लगते हैं

और प्लेटलेट तेजी कम होने लगता हैं |

. लक्षणो की जानकारी न होना इस बीमारी को और बढ़ाने का कारण होता है |

. कुछ लोग तो इसे साधारण फीवर समझ के जरुरी इलाज नहीं करते है ,

बीमारी और भी गभीर हो जाती हैं |

(और पढ़ेंः How To Reduce Breast Size Naturally using home remedies in Hindi)

डेंगू के आसान घरेलू इलाज ( Dengue Fever Treatment In Hindi)

1. नार्मल बुखार होने पर मरीज का देखभाल घर पर ही कर सकते हैं |

2. अगर भुखार 102 से ज्यादा होतो मरीज के शरीर पर ठंडे पानी की पट्टियां रखे |

3. दिन में 2 बार गिलोय का रस शहद या फिर घी के साथ ले इससे खून की कमी नहीं होती है |

4. पीपते के पत्ते से प्लेटलेट्स की गिनती बढ़ाने में हेल्प करता है.

साथ ही,  बॉडी में दर्द, कमजोरी महसूस होना,

उबकाई आना, थकान महसूस होना आदि जैसे बुखार के लक्षण को कम करने में सहायक है.

आप इसकी पत्तियों को कूट कर खा सकते हैं

या फिर इन्हें ड्रिंक की तरह भी पिया जा सकता है, जो कि बॉडी से टॉक्सिन बाहर निकालने में मदद करते हैं |

(और पढ़ेंः bp low symptoms in Hindi & Solution )

5. डेंगू के इलाज में सबसे अहम् बात

यह है की मरीज के शरीर में कभी भी

पानी की कमी न होने पाए इसलिए

मरीज को थोड़े थोड़े देर में पानी ,नारियल पानी ,निम्बू पानी और ताजे फलों का रस पिलाते रहे |

हल्दी  यह मेटाबालिज्म बढ़ाने के लिए इस्तेमाल की जाती है.

(और पढ़ेंः थयरॉइड की समस्या का घरेलू उपचार )

यही नहीं, घाव को जल्दी ठीक करने में भी मददगार साबित होती है.

हल्दी को दूध में मिलाकर पीया जा सकता है|

Finally,I hope you like the article about Symptoms of Dengue and Dengue Fever Treatment in hindi

11 COMMENTS

  1. I appreciate, lead to I discovered exactly what I used to be having a look for. You have ended my 4-day long hunt! God Bless you, man. Have a great day.
    Bye

  2. I am actually pleased to glance at this weblog posts which consists of plenty of useful
    facts, thanks for providing such data.

  3. I know this site provides quality depending articles and additional material, is there any other web page
    which provides this information in quality?

  4. Very soon this site will be famous amid all blogging and site-building people,
    due to it’s fastidious posts

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here